कहानी

कहानी

एक छोटा बच्चा था उसके पास एक बकरी के बच्चा था और वो उससे बहुत प्रेम करता था एक दिन वो उसे लेकर घुमने गया रास्ते में उसे एक ट्रेन की पटरी मिली उसने देखा की वो पटरी टूटी हुई थी और साम्हने से ट्रेन आने वाली थी उसने सोचा की ट्रेन इस पर से जायेगा तो कुछ हादसा हो सकता है वो सोचने लगा की मै ऐसा क्या करू जिससे की ट्रेन रुक जाये फिर उसके दिमाग में आया की लाल रंग का कपड़ा देखने से खतरा समझ कर ट्रेन रुक जाएगी पर उसके पास लाल रंग का कपड़ा नहीं था उसने सोचा मै क्या करू तभी उसके दिमाग में एक बात आई की वो बकरी के बच्चे को मर कर कपड़ा रंग ले पर वो उससे बहुत प्रेम करता था लेकिन लोगो की जान भी बचाना चाहता था इसलिए वो न चाहते हुए भी उसको मर कर कपड़ा रंग कर ट्रेन के साम्हने दिखाने को जब ट्रेन आई तो रुक गई और ट्रेन के लोगो ने देख कर रोने लगे और वो बच्चा भी रोने लगा l

प्रिय, दोस्तों इस कहानी के द्वारा हम यही बताना चाहते है की परमेश्वर ने अपने एकलोते पुत्र को हमारे लिए देदिया ताकि हम उस पर विश्वाश कर के हम उद्धार पाए परमेश्वर अपने पुत्र से बहुत प्रेम करता था लेकिन उसने हमारे लिए अपने एकलोते पुत्र को दे दिया ताकि जो कोई उस पर विश्वास करे वो नाश न हो परन्तु अनंत जीवन पाए

प्रभु आप लोगो को बहुत आशीष दे